गुजरात: कराची जाने वाले जहाज का कार्गो, कांडला बंदरगाह पर निरीक्षण किया जा रहा है

15

माल की प्रकृति और उतारने के कारणों के बारे में सीमा शुल्क के सूत्रों ने दावा किया कि कुछ संदिग्ध कार्गो के बोर्ड पर पाए जाने के बाद, कराची-बाउंड जहाज हांगकांग के झंडे को बंद कर दिया गया था।

 

 

गुजरात के एक बंदरगाह पर उपकरणों का निरीक्षण किया जा रहा है। (रेप फोटो: रॉयटर्स)

सरकारी सूत्रों ने इंडिया टुडे टीवी को बताया है कि खुफिया एजेंसियों, रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (डीआरडीओ) के वैज्ञानिकों और सीमा शुल्क अधिकारियों की एक टीम कराची के एक व्यापारी जहाज पर संदिग्ध उपकरणों का निरीक्षण कर रही है।

गुजरात के कच्छ जिले के कांडला बंदरगाह पर हिरासत में लिए जाने और उतारने के बाद उपकरण का निरीक्षण किया जा रहा है। माल की प्रकृति और उतारने के कारणों के बारे में सीमा शुल्क के सूत्रों ने दावा किया कि कुछ संदिग्ध कार्गो के बोर्ड पर पाए जाने के बाद, कराची-बाउंड जहाज हांगकांग के झंडे को बंद कर दिया गया था।

आकार और उपकरणों के आयाम से, यह मुख्य रूप से एक आटोक्लेव मशीन के रूप में संदेह किया जा रहा है जो एयरोस्पेस उद्योग में विशेष रूप से उच्च-प्रदर्शन कंपोजिट बनाने के लिए उपयोग किया जाता है। इन उपकरणों का इस्तेमाल आम तौर पर फ्रंट सेक्शन बैलिस्टिक मिसाइल बनाने के लिए किया जाता है।

ये मिसाइलें भारत के अग्नि-श्रृंखला मिसाइलों की तरह पुन: प्रवेश चरण के दौरान बहुत उच्च तापमान का सामना करती हैं। इससे परमाणु हथियारों के प्रसार का संदेह पैदा हुआ।

इस पोत में चीनी चालक दल के सदस्य हैं और वह चीन से पाकिस्तान के कराची जा रहा था।

 


Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here